मजबूत लिंगोत्थान को स्वाभाविक रूप से बनाए रखने के 5 तरीके

मुझे हवा को चीरती हुई मेरी मां की आवाज़ याद आती है, “झुको मत। सीधे खड़े हो जाओ लड़के, और अपनी छाती को ऊपर उठाओ।” सभी उम्र के पुरुष इस बुनियादी, सहज अभ्यास के साथ संघर्ष करते हैं। हम एक ऐसे समय में जी रहे हैं जब तत्काल आनंद की प्राप्ति की ललक, विरोधी पर्यावरणीय जोखिमों, मीडिया के माध्यम से चक्कर में डालने वाले विकर्षणों के कारण एक अकस्मात् भ्रम की स्थिति पैदा हो गई है, जहां आम लोगों में आत्म-ज्ञान का सर्वथा अभाव है।

मोबाईल टावरों से ईएमएफ (EMF = Electric and Magnetic Fields) तरंगों, और हमारे भोजन, पानी और वायु में मिश्रित रसायनों के द्वारा हमारे शरीरों पर लगातार बमबारी हो रही है। इस प्रकार अधिकांश लोग दिल की दुनिया से दूर एक दासता की स्थिति में जीते हैं।

हम अपने शरीर से बेडरूम के अंदर और बाहर बिना रुके लगातार अच्छे प्रदर्शन की मांग करते हैं, हालांकि, जब हम सावधान नहीं होते हैं तो हमारा शरीर पुरी तरह से थककर चूर हो जाता है। इसके सबसे प्रमुख लक्षणों में प्रतिरक्षा प्रणाली का कमजोर पड़ जाना, अपर्याप्त नींद, मांसपेशी प्रतिधारण शक्ति में कमी, अवसाद और काफी विशेष रूप से हमारी काम वासना में कमी शामिल हैं।

हमारा लक्ष्य शरीर को विषरहित करना, शारीरिक प्रणाली को साफ करना और अपनी वासनाओं के बजाय अपनी कोशिकाओं के लिए खाना शुरू करना है। कम तनाव, अच्छी नींद और पोषण के साथ अपने आप को एक अति केंद्रित माहौल में रखें; फिर आपका शरीर काफी चौकन्ना हो जाएगा। सूजन को कम करें, पीएच स्तर (pH level = आपका शरीर कुछ अंश में क्षारीय है, जिसका pH7.35 और 7.45 के बीच होता है।) को संतुलित करें और अपने भोजन को समुचित रूप से सारे जरूरी पोषक तत्वों से पूर्ण करें।

अब शांति से बैठ जाएं, और बस देखें कि आपका शरीर एक आदर्श माहौल के प्रति कैसे पेश आता है। ब्रह्मांड के इरादे के अनुरूप यह एक अच्छी तरह से तेल पिलाए गए मशीन की तरह तंदुरुस्ती के शिखर पर वापस आ जाएगा। हमें एक मूलतः शक्तिहीन पुरुषों की पीढ़ी के विकसित हो जाने की वर्तमान धारा के खिलाफ वापस लड़ना चाहिए। वीरता और मर्यादापूर्ण व्यवहार समाप्त ही हो चुके हैं। अब और नहीं दीखते! क्योंकि अंततः हम यह समझ जाएंगे कि एक प्रभुत्व वाले मर्द को अपने वास्तविक स्वरुप को वापस पाने के लिए हमेशा अपनी शक्तिदायी स्त्री-संतुलन की आवश्यकता होती है।

READ NEXT  पुरुष लिंग वृद्धि उत्पाद - सर्वश्रेष्ठ पुरुष लिंग वृद्धि उत्पाद खोजें

कामेच्छा पुरुषों और महिलाओं दोनों को समान रूप से प्रभावित करती है, हालांकि पुरुषों के लिंगोत्थान की गुणवत्ता और वास्तव में उनके पूरे जीवन की गुणवत्ता असंतुलित हार्मोन की वजह से बुरी तरह से पीड़ित हो जाती है। इस लेख में, हम कुछ प्रश्नोत्तरों के माध्यम से मानव शरीर की प्राकृतिक क्षमता को बहाल करने और उन्हें पुनः प्रकट करने के लिए समग्र विधियों को बताएंगे।

जिम में जाने से पहले यह सुनिश्चित करना होगा कि हमारी दिनचर्या हर 24 घंटे में हमें 8-9 घंटे सोने की अनुमति दे सके। इसके अलावा, उस नींद में सर्वोत्कृष्ट गुणवत्ता की आवश्यकता होती है जिससे शरीर को प्रत्येक R.E.M चरण (Rapid Eye Movement = जब आँखें तेजी से हिलती-डुलती रहती हैं) के माध्यम से संक्रमण करने की इजाजत मिलती है।

लंबा और कठोर लिंग। यही तो औरतें चाहती हैं।

  • 3 घंटे तक नॉन-स्टॉप सेक्स
  • एक महीने में लिंग का साइज़ +5 सेमी बढ़ाएँ
  • अपनी कामेच्छा बढ़ाएँ Hammer of Thor से और सेक्स के लिए हमेशा तैयार रहें

हे शू वू (He Shou Wu = Fallopia multiflora) और अश्वगंध को पूरक के रूप में इस्तेमाल करने का एक लाभ तंत्रिका तंत्र को ऐडाप्टोजेनिक (Adaptogenic = तनाव में गैर विशिष्ट प्रतिरोध की स्थिति को बढ़ाकर और तनाव पैदा करने वाले कारकों के प्रति संवेदनशीलता को कम करके तनाव से संरक्षण देने की शक्ति) अनुकुलन के साथ शांत करने की उनकी अनूठी क्षमता है। कोर्टिसोल को कम करके और एड्रेनल (Adrenals = अधिवृक्क ग्रंथि) को फिर से जीवंत करके ये दो जड़ी बूटियां शरीर की आंतरिक सामंजस्य को गहराई से बढ़ाती हैं और साथ ही शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट का समर्थन प्रदान करने के अलावा नाइट्रिक ऑक्साइड के स्तर को भी बढ़ाती हैं। हां सज्जनों, इसका मतलब है कि हाथों और पैरों (शरीर के सभी तरफ के अंतिम बिन्दुओं) में खून का बहाव बढ़ जाता है।

जब हम रसोई में जाते हैं

यह समझ लेना महत्वपूर्ण है कि शरीर का पहला उद्देश्य आत्म-संरक्षण है। हर समय। अगर उचित भोजन दिया जाता है, (सभी पोषक तत्वों के साथ), शरीर तदनुसार बरतेगा। यदि आप मांस खाते हैं तो कम खाने की कोशिश करें! अध्ययन* यह दिखाते हैं कि कैसे शाकाहारियों और वनस्पति आधारित आहार लेने वालों में लगातार टेस्टोस्टेरोन का स्तर उंचा बना रहता है। एंटीबायोटिक्स, हार्मोन, कैंसर पैदा करने वाले कण, और दुरुपयोग ही मांस उद्योग में अपनी भूमिका निभाते हैं।

READ NEXT  कैसे डॉक्टरों और दवाइयों के बिना सेक्स में सुधार लायें?

सचेत होकर खाएं! अपने सेम और मसूर दाल खाने की आदत से ऊपर की सोचें। नारियल के तेल, एवोकैडो, अखरोट, बादाम, मैकाडामिया और ब्राजील नट्स (macadamia and Brazil nuts) में पाए जाने वाले स्वस्थ वसा का सेवन करें।

चीनी से बचें। विशेष रूप से प्रसंस्कृत चीनी से, जो आपके पूरे हार्मोन (अन्तःस्रावी) प्रणाली को नष्ट करने के अलावा मस्तिष्क के उन्हीं हिस्सों को स्वचालित रूप से शांत और निष्क्रिय कर देता है जिन पर निद्राजनक मादक दवाओं और नशीले पदार्थों का ऐसा ही प्रभाव पड़ता है। उन खाद्य पदार्थों को अपने भोजन में जरूर शामिल करें जिनमें कीनुआ (quinoa), बकव्हीट (buckwheat), भांग, चिया (Chia) और कद्दू के बीज जैसे सभी 9 आवश्यक अमीनो एसिड मौजूद हों।

लस (Gluten) और अपने स्थानीय जैविक किराने की दुकान के बाहरी इलाकों के दुकानों से कुछ खरीदने से बचें। आहार में ब्रूसल स्प्राउट (brussel sprouts), फूलगोभी, और शतावरी शामिल होना चाहिए जो सभी एरोमैटस अवरोधक (aromatase inhibitors) होने का लाभ देते हैं, संभावित रूप से एस्ट्रोजेन को कम करते हैं और खून के बहाव में अधिक मात्रा में टेस्टोस्टेरोन को शामिल करते हैं।

वजन प्रशिक्षण और व्यायाम

सबसे पहले तो अपनी दिनचर्या को सरल रखें। मूल यौगिक क्रियाओं (कई जोड़ों का एक साथ का आंदोलन, जो एक समय में कई मांसपेशियों या मांसपेशियों के समूहों को सक्रिय करता है) वाले व्यायामों को जारी रखें, सहायक / अलग से किये जाने वाले व्यायामों का अभ्यास कम करें या फिर उनका सक्रिय स्वास्थ्यलाभ के लिए उपयोग करें। दिल से बहादुर लोगों के लिए वास्तव में स्वाभाविक होने के लिए प्रति सप्ताह 5 व्यायाम सत्रों या प्रशिक्षण के 6 घंटे से ज्यादा की आवश्यकता नहीं है। यदि आप इससे अधिक करते हैं तो आप अति प्रशिक्षण कर बैठने का जोखिम उठाते हैं। यदि ऐसा है तो आपको एक कदम पीछे हटकर अपने व्यायाम संबंधी दिनचर्या का फिर से मूल्यांकन करना चाहिए। अपने व्यायाम के सत्र को लगभग 1 घंटे का रखें, पानी पर्याप्त मात्रा में पीते रहें और कसरत के अनुसार पोषण प्राप्त करने की जरुरत पर अवश्य ध्यान दें।

READ NEXT  लिंगोत्थान की गड़बड़ी: पुरुषों को जिन बातों का पता होना चाहिए और इसके इलाज के तरीके

Lost Empire Herbs ताकत और सहनशक्ति को बढ़ावा देने के लिए प्रमाणित हर्बल मिश्रणों की एक सुंदर विविधता प्रदान करता है। कसरत के पहले या बाद में लेने के लिए दो सबसे प्रभावी पूरक शिलाजीत और बीटरूट (बीट के मूल का) पाउडर हैं। बीट अत्यधिक पोषक तत्व होते हैं जो साधारण कार्बोहाइड्रेट, बीटाइन (Betaine), पोटेशियम और नाइट्रेट्स की अत्यधिक मात्रा में आपूर्ति करते हैं जो शरीर में नाइट्रिक ऑक्साइड के उत्पादन को बढ़ाकर खून के बहाव में तेजी लाते हैं। खून के बहाव के तेज हो जाने से दर्द घटने लगते हैं, मांसपेशियों में पोषक तत्वों के परिसंचरण को बढ़ावा मिलता है और श्वसन तंत्र को अधिक कुशलतापूर्वक काम करने के लिए समर्थन मिल जाता है।

अब इसके साथ शिलाजीत को जोड़ें। यह प्राकृतिक यौगिक सूजन को कम करने, शरीर के पीएच स्तर (pH level) को संतुलित करने, भारी धातुओं और अन्य विषाक्त पदार्थों को हटाने में चमत्कारी काम करेगा। खनिज और फुलविक एसिड (fulvic acid) की इसकी दुर्लभ सांद्रता अन्य हर्बल पूरकों या खाद्य पदार्थों की जैव-उपलब्धता में वृद्धि करके इलेक्ट्रोलाइट संतुलन को ठीक करके सर से पैर तक की प्रणाली की कमियों को पूरा करने का काम करती है।

ये पूरक ओवरट्रेनिंग सिंड्रोम को रोक देंगे जहां आप थके हुए और शुरू करने से पहले के स्तर से अपने आत्मविश्वास में कमी महसूस करते हैं। आइए साथियों, हम यथार्थवादी और उत्तरदायी बने।

इस धरती पर कुछ भी नया नहीं है

आज की संस्कृति में, किसी ज्यादा आसान प्रक्रिया के मूल बातों को खारिज कर देना आसान हो गया है। इस दकियानूसी सोच की जंजीरों से बाहर निकलें। ध्यान करने का प्रयास करें। प्लास्टिक या माइक्रोवेव का उपयोग करने से बचें, धूप का अधिक मात्रा में सेवन करें। अपने पूर्वजों की जीवनशैली की विशेषताओं को अपनाएं! अपने आप को बेहतर ढंग से समझकर अपने जीवन से चिंता को खत्म करें।

अपने जीवन में उचित कार्रवाई करें और फिर देखें कि उसके परिणाम कितने चमत्कारी होते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.